नई दिल्ली, प्रेट्र। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए लागू देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान आयुष्मान भारत स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत औसतन साप्ताहिक दावों में 51 फीसद की गिरावट आई है। यानी, इस दौरान आधे से भी कम लाभार्थी इलाज के लिए अस्पताल पहुंचे हैं।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) के प्रकाशन ‘पीएम-जेएवाई अंडर लॉकडाउन: एविडेंस ऑन यूटिलाइजेशन ट्रेंड्स पीएम-जेएवाई’ में शोधकर्ताओं के समूह ने कहा है कि लॉकडाउन के दौरान 25 मार्च से दो जून तक निजी अस्पतालों के मुकाबले सार्वजनिक अस्पतालों की सेवाओं के उपयोग में गिरावट देखी गई। एनएचए आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (एबी पीएम-जेएवाई) का क्रियान्वयन कराने वाली शीर्ष संस्था है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here